Government scheme -sachi shiksha hindi

सरकारी योजना – मजदूर वर्ग के लिए कारगर -पीएम विश्वकर्मा योजना
भारत के मजदूर भाईयों के विकास लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कई बड़ी योजनाओं को संचालित कर रहे हैं। आए दिन मजदूरों से जुड़ी नई योजना सरकार के द्वारा लॉन्च की जाती है। 15 अगस्त 2023 के मौके पर भी प्रधानमंत्री द्वारा नई योजना की घोषणा की गयी थी। इस योजना का नाम पीएम विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना है।

आइए इस योजना से सम्बंधित पात्रता, आवेदन/ आॅनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, दस्तावेज आदि के बारे में जानते हैं। इस योजना की मदद से कारीगर/ मजदूर 1 लाख रुपए तक का ऋण 5 प्रतिशत ब्याज की दर से ले सकते हैं, इससे उन्हें अपना कार्य बढ़ाने में मदद मिलेगी।

योजना का उद्देश्य:

पीएम विश्वकर्मा कौशल सम्मान योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य देश के पारंपरिक शिल्पकारों और कारीगरों व दस्तकारों जैसे बढ़ई, दर्जी, टोकरी बुनने वाले, नाई, सुनार, लोहार, कुम्हार, हलवाई, मोची आदि मजदूरों को वित्तीय सहायता प्रदान कर उनके व्यवसाय में उन्नति लाना है। इस योजना के कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा 13000 करोड़ रुपए की मंजूरी दी गई है।

योजना के फायदे:

  • इस योजना के अंतर्गत पात्र शिल्पकार और कारीगरों को 1 लाख रुपए तक का ऋण 5 प्रतिशत ब्याज की दर से प्रदान किया जाएगा।
  • अगर ऋण लेने वाला व्यक्ति समय रहते हुए वह पैसे वापस कर देता है तो उसे योजना के अंतर्गत पुन: 2 लाख रुपए तक की राशि का लोन दिया जाएगा।
  • लोन देने के अलावा इस योजना के अंतर्गत इच्छुक शिल्पकार और कारीगरों को कौशल उन्नयन का प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।
  • कौशल प्राप्त कर रहे लोगों में से कुछ चुनिंदा लोगों को 500 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से स्टायपेंड भी दिया जाएगा।
  • इसके अलावा शिल्पकार और कारीगरों के उन्नत किस्म के औजार खरीदने के लिए 15000 रुपए की धनराशि दी जाएगी।
  • प्रशिक्षण पूरा हो जाने के बाद शिल्पकार और कारीगरों को प्रमाण पत्र और पहचान पत्र भी प्रदान किया जाएगा।

योजना के लिए पात्रता:

  • सिर्फ भारत के मूलनिवासी कारीगरों को ही इस योजना का लाभ दिया जाएगा।
  • इस योजना के अंर्तगत 100 से अधिक उद्योग एवं कारोबार के लिए लोन प्रदान किया जाएगा।
  • इन कारोबारों को शामिल किया गया है- टोकरी बुनाई उद्योग, फर्नीचर से संबंधित आने वाले, सोना चांदी व अन्य गहनों से जुड़े लोग, फूलों की माला बनाने वाले, मोची कारोबार, मूर्ति निर्माण, ताला चाबी का कारोबार करने वाले, मिठाई बेचने वाले, कपड़ा सिलाई करने वाले, मिट्टी बर्तन बनाने वाले, राजमिस्त्री, धोबी, चित्रकार आदि इस योजना के लिए आवेदन करने के पात्र हैं।

आवश्यक दस्तावेज:

इस योजना में आवेदन करने के लिए आवेदनकर्ता के पास निम्नलिखित दस्तावेज होना आवश्यक है। इन दस्तावेजों के बिना आप योजना के लिए आवेदन नहीं कर पाएंगे।

  • आधार कार्ड
  • मतदाता पहचान पत्र
  • कारीगरी से सम्बंधित दस्तावेज
  • मोबाइल नंबर
  • बैंक खाते का विवरण
  • आय प्रमाण पत्र
  • जाति प्रमाण पत्र

ऐसे करें आवेदन:

  • इस योजना में आवेदन करने के लिए आपको सबसे पहले विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की आॅफिसियल वेबसाइट (https://pmvishwakarma.gov.in/) पर जाना होगा।
  • इसके बाद आपको उस वेबसाइट के होम पेज पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान योजना की लिंक पर क्लिक करना होगा।
  • जैसे ही आप लिंक को ओपन करेंगे, आपके सामने एक रजिस्ट्रेशन पेज खुल जाएगा, जिसमें आपको अपना रजिस्ट्रेशन कर लेना है।
  • इस पेज में आपको अपनी कुछ पर्सनल डिटेल्स जैसे अपना नाम, करोबार, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, पिता का नाम, राज्य, ईमेल आईडी, जिला आदि भरना होगा।
  • सभी जानकारी सही भरने के बाद आपको इसे सबमिट कर देना है।
  • इस तरह से आपकी रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी हो जाएगी।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here
Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!