How to protect your newborn baby from cold -sachi shiksha hindi

सर्दी से ऐसे बचाएं अपने नवजात शिशु को

नवजात शिशुओं की इम्यूनिटी पूरी तरह से विकसित नहीं होती, इसलिए वो बीमारियों की चपेट में आसानी से आ जाते हैं। ऐसे में नवजात शिशुओं के लिए यह मौसम थोड़ा मुश्किल भरा हो सकता है और नवजात शिशु की देखभाल माता-पिता के लिए बड़ी चुनौती बन जाता है।

इसलिए अगर शिशु के जन्म के बाद ये सर्दियों का पहला मौसम है, तो आपको विशेष सावधानी बरतनी चाहिए। वहीं समय से पूर्व जन्मे शिशुओं पर भी बीमारियों का खतरा मंडराता रहता है।

सर्दियों में शिशुओं की सेहत को ध्यान में रखते हुए कुछ आसान टिप्स आपकी मदद कर सकते हैं:-

ज्यादा कपड़ों से शिशु को न ढकें:

सर्दियों में अपने नवजात को ठंड से बचाने के लिए उसे जरूरत से ज्यादा ढकना सही नहीं है। अक्सर शिशु ज्यादा कपड़ों से लदे हुए नजर आते हैं। लेकिन ऐसा करने से शिशु के शरीर में ज्यादा गर्माहट बन जाती है। इस कारण से उसे बेचैनी और सांस लेने में प्रॉब्लम महसूस हो सकती है, इसलिए बच्चे को जरूरत से ज्यादा कपड़े न पहनाएं।

जरूरी वैक्सीन लगवाएं:

सर्दियां आने के साथ फ्लू और संक्रामक रोगों का खतरा बढ़ जाता है। ये मौसम नवजात शिशु के लिए नाजुक होता है। माता-पिता को शिशु को सभी जरूरी वैक्सीन समय पर लगवानी चाहिए। जिन बच्चों की उम्र 6 माह या उससे ज्यादा है, उन्हें फ्लू शॉट लग सकता है।

साफ-सफाई का ख्याल रखें:

शिशु के जन्म के बाद पहली बार वो सर्दी का मौसम देख रहा है, तो ये समय उसके लिए नाजुक हो सकता है। इस दौरान साफ-सफाई का ख्याल रखें। तापमान ज्यादा कम है, तो रोज नहलाने के बजाए त्वचा को स्पंज करें। गुनगुने पानी में साफ तौलिए को गीला करके शिशु के शरीर को साफ रखें। ठंड के दिनों में सफाई का ख्याल न रखने से शरीर में संक्रमण हो सकता है।

सर्दियों की धूप है जरूरी

शिशु की पहली सर्दियां उसके लिए खास होती हैं। विटामिन-डी की पूर्ति के लिए शिशु को हफ्ते में 1 से 2 बार 10 मिनट के लिए धूप में लेकर जाएं। लेकिन सुबह की हल्की धूप ही शिशु के लिए अच्छी रहेगी। तेज धूप में शिशु की त्वचा पर बुरा असर पड़ सकता है।

आंखों का ख्याल रखें:

ठंड के मौसम में ज्यादा ठंडी हवा का बुरा असर शिशु की आंखों पर पड़ता है। सर्दियों में साफ-सफाई का ख्याल न रखने से शिशु की आंख में संक्रमण हो सकता है। लाल आंख या आसपास पीला पदार्थ नजर आ सकता है। इन लक्षणों के नजर आने पर डॉक्टर से संपर्क करें। अगर शिशु की आंख से पानी निकल रहा हो, तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। शिशु की आंखों को सर्दियों में स्वस्थ रखने के लिए गुनगुने पानी में कॉटन को गीला करें, फिर बच्चे की आंख के आसपास के हिस्से को साफ करें।
-साभार ओन्लीमाईहेल्थ डॉट कॉम

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here
Captcha verification failed!
CAPTCHA user score failed. Please contact us!