टैग्स Indescribable benevolence

टैग: Indescribable benevolence

Indescribable benevolence

अवर्णनीय परोपकार

जो सतगुरु जीवन ही बख्श दे, मुर्दे को जिन्दा कर दे, जो चौरासी के कैदखाने में बंदी रूहों को अपने रहमो-करम से मुक्त कर दे और उन्हें एक-एक को, सबको अपने घर निज देश, सतलोक, सचखण्ड में पहुंचा दे, क्या इससे बड़ा कोई परोपकार हो सकता है?

नवीनतम

मीठे बोल जीत सकते हैं सबका मन

मीठे बोल जीत सकते हैं सबका मन जीवन की आपाधापी एवं भागमभाग में हम एक-दूसरे के लिए कम समय ही निकाल पाते हैं और इसमें...

क्लिक करे

1,142फैंसलाइक करें
7,876फॉलोवरफॉलो करें
371फॉलोवरफॉलो करें
23फॉलोवरफॉलो करें
95,096फॉलोवरफॉलो करें
35,500सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

विशेष

पुराना

कैंसर को किया कैंसिल

0
सत्संगियों के अनुभव पूज्य हजूर पिता जी की रहमत प्रेमी विजय कुमार इन्सां (विजय बंसरी वाला) सुपुत्र प्रेमी सतपाल इन्सां मेला ग्राउंड शाह सतनाम जी...

प्रचण्ड आग से सुरक्षित निकाला

0
सत्संगियों के अनुभव - पूज्य परम पिता जी की रहमत प्रचण्ड आग से सुरक्षित निकाला प्रेमी दारा खान इन्सां निवासी न्यू गुरु अर्जनदेव जी कालोनी...

बेटी को हर बात समझाए मां

0
बेटी को हर बात समझाए मां :  माँ-बेटी का रिश्ता बड़ा ही प्रेम से भरपूर व विश्वासी होता है। बेटी अपने सबसे करीब मां को...

होटल ऐसे समुद्र में 20 फीट नीचे

0
अक्सर जब भी किसी लग्जरी होटल रूम की बात होती है तो कई लोग कल्पनाओं की उड़ान भरने लगते हैं। एक ऐसी ही कल्पना...

सेवा के साथ सुमिरन करो, सोने पे सुहागा

0
रूहानी सत्संग (3 जुलाई 2016)  डेरा सच्चा सौदा शाह सतनाम जी धाम, सरसा मालिक की प्यारी साध-संगत जीओ! इस कलयुग में दृढ़ यकीन, श्रद्धा-भावना अपने...